आक पौधे के पत्ते, दूध, जड़ के फायदे और नुकसान | Aak Paudhe Ke Fayde Or Nuksan

Aak Paudhe Ke Fayde Or Nuksan: प्रकति ने हमें बहुत से औषधीय गुणों से युक्त पेड़-पौधे मुफ्त में प्रदान किये हैं. इन्ही पौधों में शामिल हैं आक का पौधा. आयुर्वेद में आक को एक जड़ी बूटी के रूप में जाना जाता हैं. इस पौधे को अधिक पानी की जरुरत नही होती हैं, यह बंजर जमीन पर अपने आप पनपने लगता हैं. इस पौधे के फूल सफेद, बैगनी रंग के होते हैं और पत्तो का आकार बरगद के पत्ते जैसा होता हैं. इस पौधे को कई लोग मदार के नाम से भी जानते हैं. इसका वैज्ञानिक नाम जायंट कैलोट्रोप (Giant calotrope) है. आक में मौजूद खास तत्वों की वजह से इसका इस्तेमाल कई प्रकार की गंभीर बिमारियों से बचाव और इलाज में किया जाता हैं. दर्द मुक्ति की इस पोस्ट के माध्यम से हम आक पौधे के फायदे और नुकसान के बारे में विस्तार से जानेंगे.

aak paudhe ke fayde or nuksan

आक पौधे के फायदे – Aak Paudhe Ke Fayde In Hindi

मदार पौधे के पत्ते, फूल, जड़ दूध सभी का उपयोग किसी न किसी रोग के उपचार में किया जाता हैं. चलिए नीचे इनसे मिलने वाले विशेष लाभ के बारे में जानते हैं-

आक के पत्ते के फायदे

नीचे कुछ आक के पत्ते के घरेलू उपाय (Aak Ke Patte Ke Fayde) बताये गए हैं, जिन्हें आप आजमा सकते हो :-

  1. बुढ़ापे में बहुत से लोगो के साथ जोड़ो के दर्द की समस्या अक्सर रहती हैं. इस समस्या में लाभ पाने के लिए आक के पत्ते को दर्द वाले स्थान पर बांध ले. इसकी पत्तियों में दर्द और सूजन कम करने वाले गुण पाए जाते हैं, जो गठिया, संधिशोध जैसी बिमारियों में राहत दिलाते हैं. जल्द राहत पाने के लिए पत्तो को गर्म करके बांधे.
  2. आक के पत्ते में मौजूद औषधीय तत्त्व सर दर्द की समस्या को दूर करने में भी सहायता करते हैं. इसके लिए आप आक के पत्तो को पीसकर लेप बनाकर सिर पर लगायें.
  3. बवासीर की समस्या में आक के पत्ते के फायदे मिल सकते हैं. इसके पत्तो को पीसकर बवासीर के फोड़े पर लगाने से राहत मिलती हैं.
  4. कान दर्द की समस्या में आक के पत्ते का इस्तेमाल किया जा सकता हैं. इसके लिए आप पत्तों का एक चोथाई कप रस निकाल ले और इसमें एक चोथाई कप तिल का तेल मिला ले. इसमें एक चोथाई चम्मच लहसुन, दालचीनी, केलामस और हींग मिलाकर धीमी आंच पर पकाकर एक बोतल में भरकर रख ले. दर्द होने पर एक दो बूंद कान में डाले.

आक के दूध के फायदे

  1. पैरों केछाले को ठीक करने के लिए आक के पौधे के रस का उपयोग किया जा सकता हैं. आक का दूध छाले पर लगाने से राहत मिलती हैं.
  2. त्वचा के दाग धब्बों को हटाने के लिए आप आक के दूध का इस्तेमाल कर सकते हो. 3 ग्राम हल्दी में आक के दूध को मिलाकर दाग धब्बे वाली जगह पर लगा लें.
  3. पाइल्स होने पर आप आक के दूध को बाहरी रूप से लगाकर लाभ ले सकते हैं.
  4. दांत दर्द होने पर आक के दूध को मसूड़ो पर लगाने से दर्द में राहत मिलती हैं.
  5. मदार के दूध को हल्दी मिक्स कर घाव पर लगाने से ये जल्दी भरने लगते हैं.

मदार की जड़ और फूल के लाभ

  1. आक की जड़ के फायदे हेजा की समस्या में मिलते हैं. इसकी जड़ को अच्छे से साफ़ कर सुखा लें और चूर्ण तैयार कर लें. इसमें काली मिर्च पाउडर और अदरक का रस मिला ले और छोटी-छोटी गोलियांबना ले और हर दो घंटे बाद एक एक गोली का सेवन पुदीने के रस के साथ करें।
  2. पेशिच और दस्त के इलाज में आक की जड़ की छाल के चूर्ण का इस्तेमाल किया जा सकता हैं। इसकी जड़ अपच की समस्या में भी लाभकारी हैं।
  3. महिलाओं की प्रजनन क्षमता में सुधार लाने के लिए सफेद फूल वाले आक की जड़ को छाव में सुखाकर बारीक पीसकर चूर्ण तैयार कर ले. एक से दो ग्राम चूर्ण को गाय के एक गिलास दूध के साथ सेवन करें.

चलिए पोस्ट के अगले भाग में आक पौधे के कुछ नुकसान के बारे में जान लेते हैं-

आक पौधे के नुकसान – Aak Paudhe Ke Nuksan In Hindi

आयुर्वेदिक औषधियां हमारे लिए फायदेमंद हैं, तो इनके थोड़े बहुत नुकसान भी हो सकते हैं. यदि इनका उपयोग सही तरीके और सही समय पर न किया जाये.

  1. गर्भवती महिलाओं को इसका सेवन करना नुकसानदायक हो सकता हैं, इसलिए गर्भावस्था के दौरान इसके सेवन से बचें.
  2. स्तनपान के दौरान इसका सेवन नही करना चाहिये.
  3. हृदय रोगियों को इसका उपयोग नुकसान पहुंचा सकता हैं,. इसमें मौजूद कुछ रसायन हार्ट को प्रभावित कर सकते हैं.
  4. हार्ट बीट कम हो सकती हैं, कुह परिस्तिथियों में यह जानलेवा साबित हो सकता हैं. इसलिए किसी भी औषधि के सेवन से पहले डॉक्टर की सलाह जरुर लें.

दर्द मुक्ति की इस पोस्ट को पढ़कर आपको समझ में आ गया होगा कि आक पौधे के फायदे और नुकसान क्या हैं. आयुर्वेदिक पौधे और जड़ी बूटियों का सही मात्रा में उपयोग करें और उच्च लाभ प्राप्त करें. उम्मीद करते हैं आक पौधे पर ऊपर दी गयी यह जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी. यदि आपको यह जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने मित्रों और परिवार के लोगों के साथ जरुर शेयर कीजियेगा. हम आगे भी आपके साथ ऐसी ही उपयोगी जानकारी शेयर करते रहेंगे इसलिए हमारे साथ जुड़े रहिएगा.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top