कुंदरू सब्जी खाने के 10 बड़े फायदे और कुछ नुकसान | Kundru Sabji Khane Ke Fayde Or Nuksan

Kundru Sabji Khane Ke Fayde Or Nuksan: आज के समय में शारीरिक स्वास्थ्य को लेकर सभी चिंतित हैं. सभी अपने शरीर को स्वस्थ और फीट रखना चाहते हैं. लेकिन शरीर को स्वस्थ और ऊर्जावान बनाने के लिए उचित आहार के सेवन और शारीरिक व्यायाम बहुत जरुरी होता हैं. हरी साग सब्जियों का सेवन भी हमारे लिए बहुत आवश्यक होता हैं क्योंकि इन सब्जियों को खाने से हमारे शरीर को जरुरी विटामिन और खनिज तत्त्व प्राप्त हो जाते हैं. ऐसी ही एक सब्जी कुंदरू हैं, जिसका सेवन कई प्रकार की शारीरिक समस्याओं को दूर करने में मदद करता हैं. दर्द मुक्ति की इस पोस्ट के माध्यम से हम कुंदरू सब्जी खाने के फायदे और नुकसान के बारे में विस्तार से जानेंगे.

कुंदरू सब्जी खाने के फायदे और नुकसान

चलिए सबसे पहले कुंदरू सब्जी के बारे में जरुरी जानकारी जन लेते हैं-

कुंदरू सब्जी की जानकारी – Kundru Sabji Ki Jankari

कुंदरू पेड़ या झाड़ी के सहारे फैलने वाली मौसमी सब्जी हैं. इसका वैज्ञानिक भाषा में नाम कार्डीफोलियो हैं, जो कुकुर बिटेसी के परिवार से संबंध रखती हैं. यह सब्जी 3 से 5 मीटर तक लम्बाई तक बढ़ सकती हैं. पहले इसकी खेती एशिया और अफ्रीका के कुछ देशों में होती थी. लेकिन धीरे-धीरे इसकी पैदावार पुरे विश्व में होने लगी. कुंदरू में पौष्टिक तत्त्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं. इसलिए कई लोग इसका इस्तेमाल औषधि के रूप में भी करते हैं.

चलिए पोस्ट के अगले भाग में कुंदरू सब्जी खाने के फायदे के बारे में जान लेते हैं-

कुंदरू सब्जी खाने के फायदे – Kundru Sabji Khane Ke Fayde

यदि देखा जाये तो कुंदरू सब्जी कई प्रकार से हमारे लिए लाभकारी हैं. चलिए नीचे कुछ विशेष फायदे के बारे में जान लेते हैं.

कैंसर से बचाव में सहायक कुंदरू

कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी होने पर लोगों को अपनी जान तक गवानी पड़ सकती हैं. इस बीमारी के इलाज में लोग लाखों रुपए तक खर्च कर देते हैं. कुंदरू सब्जी में एंटी कैंसर गुण पाए जाते हैं. इसी वजह से इसका सेवन हमें कैंसर होने से बचा सकता हैं. लेकिन आप पहले से ही कैंसर पीड़ित हैं, तब डॉक्टर से उचित इलाज भी लें.

कुंदरू सब्जी के फायदे पाचन तंत्र के लिए

कुंदरू सब्जी खाने के फायदे की लिस्ट में हमारा पाचनतंत्र भी शामिल हैं. इसका सेवन पाचन क्रिया को बेहतर बनाने में मदद करता हैं. कुंदरू खाने से कब्ज, गैस, एसिडिटी की समस्या दूर होती हैं. मल की कठोरता कम होती हैं, जिससे मल त्यागने में कठिनाई का सामना नही करना पड़ता हैं. ये सभी लाभ हमें कुंदरू में मौजूद फाइबर की अच्छी मात्रा की वजह से मिलते हैं. वे सभी हरी सब्जियां जिनमे फाइबर पाया जाता हैं, पाचन समस्याओं को दूर करने में सहायक होती हैं.

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती हैं

कमजोर रोगप्रतिरोधक क्षमता होने की वजह से कई बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता हैं. कुंदरू सब्जी खाने से इम्युनिटी को बढ़ाया जा सकता हैं. इसमें मौजूद विटामिन इम्यून सिस्टम को प्रभावित करते हैं. खासकर कुंदरू में पाया जाने वाला विटामिन ए इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने में सहायक होता हैं.

मानसिक तनाव कम करने में कारगर

अधिक चिंता के कारण कई लोग अपना मानसिक संतुलन खो देते हैं. मानसिक तनाव को दूर करने में कुंदरू की सब्जी सहायक साबित हो सकती हैं. इसमें एंटीओक्सिडेंट पाए जाते हैं, जो डिप्रेशन को दूर करने में मदद करते हैं. विटामिन ए और सी एंटीओक्सिडेंट के अच्छे स्त्रोत होते हैं, जो कि कुंदरू में भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं.

मधुमेह की समस्या में लाभकारी

मधुमेह रोगियों को खाने पीने को लेकर बहुत सतर्क रहना पड़ता हैं. इन मरीजों के लिए कुछ खाद्यपदार्थ फायदेमंद होते हैं, तो कुछ नुकसानदायक होते हैं. शुगर के मरीज कुंदरू का सेवन बेझिझक कर सकते हैं. इसमें हाईपरग्लाईसेमिक प्रभाव पाया जाता हैं, जो खून में शर्करा के स्तर को नियंत्रित रखने में सहायता करता हैं. इस वजह से शुगर को कंट्रोल किया जा सकता हैं.

कुंदरू सब्जी के फायदे किडनी स्टोन में

कुंदरू सब्जी खाने से किडनी स्टोन बनने की सम्भावना को कम किया जा सकता हैं. इसमें कैल्शियम पाया जाता हैं, जो स्टोन बनने की सम्भावना को कम करने में मदद कर सकता हैं. लेकिन कुंदरू सब्जी पर ही निर्भर न रहें, अपने डॉक्टर से सलाह ले की कैल्शियम की कितनी मात्रा आपके लिए उचित हैं.

हार्ट के लिए लाभकारी कुंदरू वेजिटेबल

दिल के स्वास्थ्य को बेहतर रखना हमारे शरीर के लिए बहुत जरुरी होता हैं. हार्ट कमजोर होने से दिल से जुडी कई समस्याएँ हो सकती हैं. यहाँ तक कि हार्ट अटैक तक आ सकता हैं. कुंदरू में कई प्रकार के फ्लावेनोईडस पाए जाते हैं. जो एंटीओक्सिडेंट, एंटीबेक्टीरियल, एंटीइन्फ्लेमेंट्री और मुख्य रूप से कार्डियो प्रोटेक्टिव गतिविधि की तरह काम कर सकता हैं. यह दिल के रोगों का कारण बनने वाले फ्री रेडिकल को जड़ से ख़त्म करते हैं.

मोटापे को घटाने में मददगार

मोटापे से ग्रस्त लोग कुंदरू को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं. इसमें फाइबर की भरपूर मात्रा होती हैं. फाइबर युक्त भोजन भूख को शांत रखने में मदद करता हैं. मोटापे का एक बड़ा कारण जरुरत से ज्यादा भोजन करना ही हैं. लेकिन आप सिर्फ कुंदरू पर ही निर्भर न रहे, शारीरिक व्यायाम को भी अपनी दिनचर्या में शामिल करें.

संक्रमण से बचाव में सहायक

कई रोग संक्रमण के कारण फैलते हैं. लेकिन कुंदरू सब्जी खाने से संक्रमण फ़ैलाने वाले बेक्टीरिया नष्ट हो जाते हैं. इसमें एंटीबेक्टिरियल और एंटीमाइक्रोबियल गुण पाए जाते हैं, जो संक्रमण को फैलने से रोकते हैं.

थकान मिटाने में मददगार इसका सेवन

कई लोग कम काम करने पर भी दिनभर थकाथका महसूस करते हैं. कुंदरू की सब्जी खाने का फायदा ऐसे लोगो को मिल सकता हैं. इसमें आयरन प्रचुर मात्रा में होता हैं. आयरन युक्त खाद्यपदार्थ शारीरिक कमजोरियों को दूर करने में मददगार होते हैं.

कुंदरू में क्या पाया जाता हैं – Kundru Me Kya Paya Jata Hain

यह पौषक तत्वों से भरपूर सब्जी हैं. इसमें प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, विटामिन ए, विटामिन सी, राईबोफ्लेबिन जैसे कई जरुरी तत्त्व पाए जाते हैं. इन्ही तत्वों की वजह से हमें कुंदरू खाने का फायदा मिलता हैं.

कुंदरू खाने के तरीके – Kundru Khane Ke Tarike

नीचे कुंदरू सेवन के कुछ अलग-अलग तरीके बताये गए हैं. जिन्हें आप घर पर बनाकर खा सकते हैं-

  1. आप कुंदरू की सूखी सब्जी बनाकर खा सकते हैं.
  2. कुंदरू को बेसन में मिलाकर पकोड़े बनाकर खाया जा सकता हैं.
  3. कुंदरू को पीसकर चटनी बनाकर खाया जा सकता हैं.
  4. आप कुंदरू के छोटे टुकड़े काटकर तलकर स्नेक्स के रूप में खा सकते हैं.
  5. आप कुंदरू को अन्य सब्जियों के साथ मिक्स वेज बनाकर खाया जा सकता हैं.

कुंदरू की कितनी मात्रा का सेवन करें

इसकी एक कटोरी सब्जी पर्याप्त होती हैं. आप इसे दोपहर या रात्रि भोजन के समय ग्रहण कर सकते हैं.

कुंदरू सब्जी खाने के नुकसान – Kundru Sabji Khane Ke Nuksan

किसी भी सब्जी, फल या अन्य कोई खाद्यसामग्री हमारे लिए फायदेमंद है, तो उसके थोड़े बहुत नुकसान भी हो सकते हैं. उसी प्रकार कुंदरू सब्जी के भी कुछ नुकसान हो सकते हैं.

  1. कुंदरू सब्जी का अतिसेवन आपके पाचनतंत्र के लिए नुकसानदायक हो सकता हैं. अधिक सेवन करने से कब्ज, गैस, एसिडिटी की समस्या हो सकती हैं.
  2. कुछ लोगों में कुंदरू के सेवन के पश्चात एलर्जी हो सकती हैं. यदि आपके साथ ऐसी कोई समस्या आये, तब डॉक्टर की सलाह से ही दोबारा सेवन करें.
  3. कुंदरू के पके और कड़वे होने पर इनका सेवन करना हानिकारक साबित हो सकता हैं.
  4. यदि आप किसी विशेष बीमारी के लिए दवाइयों पर निर्भर हैं. तब आप डॉक्टर के परामर्श से कुंदरू की सही मात्रा का सेवन करें.

दर्द मुक्ति की इस पोस्ट को पढ़कर आप अच्छे से समझ गएँ होंगे कि कुंदरू सब्जी खाने के फायदे और नुकसान क्या हैं. दोस्तों हरी सब्जियां और फलों का सेवन हमारे शरीर के जरुरी होता हैं. इसलिए तले भुने मसालेदार भोजन का कम से कम सेवन करें और हरी सब्जियों को अपने आहार का मुख्य हिस्सा बनाये. हम आगे भी आपके लिए ऐसी ही जरुरी जानकारी आपके लिए लाते रहेंगे. इसलिए इस वेबसाइट दर्द्मुक्ति के साथ जुड़े रहिएंगा. धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top