मुल्तानी मिट्टी के फायदे त्वचा, बालों और सेहत के लिए और कुछ नुकसान | Multani Mitti Ke Fayde Or Nuksan

खूबसूरती को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली मुल्तानी मिट्टी कई गुणों से भरपूर होती हैं. अंग्रेजी भाषा में इसे फुलर्स अर्थ भी कहा जाता हैं. इस मिटटी में कैल्शियम, सिलिका, मैग्नीशियम, कैलसाईट जैसे खनिज तत्त्व पाए जाते हैं. मुल्तानी मिटटी ऑयली स्किन वालों के लिए एक बेहतरीन फेसवाक हैं. यह मिटटी अमेरिका, भारत, पाकिस्तान, मेक्सिको, में पाई जाती हैं. भारत में यह राजस्थान के बाड़मेड और बीकानेर जिले में मिलती हैं. दर्द मुक्ति की  इस पोस्ट में हम मुल्तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान के बारे में विस्तार से जानेंगे.

मुल्तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान बताइए

मुल्तानी मिट्टी के फायदे – Multani Mitti Ke Fayde

मुल्तानी मिट्टी लगाने के फायदे त्वचा, बालों और सेहत के लिए कई हैं. चलिए सबसे पहले स्किन के लिए इसके फायदे के बारे में जान लेते हैं-

त्वचा के लिए मुल्तानी मिटटी के फायदे

त्वचा की कई प्रकार की समस्याओं में मुल्तानी मिट्टी फायदेमंद होती हैं, चलिए इसके विशेष लाभ के बारे में जानते हैं-

डैड त्वचा को हटाने में कारगर

यदि आप मृत त्वचा को चेहरे या त्वचा से हटाना चाहते हैं, तो आपके लिए कुदरत द्वारा प्रदान की गयी यह मिट्टी लाभकारी साबित हो सकती हैं. सप्ताह में दो-तीन इसका प्रयोग इस समस्या में लाभ पहुँचाता हैं.

कील मुहासों की समस्या में लाभकारी

यदि आप चेहरे या शरीर के अन्य हिस्सों पर बार-बार कील मुहासों होने की समस्या से जूझ रहे हैं तो कुछ सप्ताह तक मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग करके देखें. इस मिट्टी में मौजूद खनिज तत्त्व त्वचा की इन समस्याओं में बेहद लाभकारी होते हैं.

जलने के निशान हटाने में मददगार

त्वचा पर जले हुए निशान को हटाने के लिए आप मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल कर सकते हो. इस मिट्टी में आप नींबू का रस और विटामिन ई को मिलाकर लगाये, कुछ ही दिनों बाद निशान कम दिखाई देने लगेंगे.

त्वचा को कोमल और चमकदार बनाये

यदि आप अपनी त्वचा को कोमल और चमकदार बनाना चाहते है, तो मुल्तानी मिटटी के पेस्ट में टमाटर रस, हल्दी और चन्दन पाउडर को मिलाकर लगाये. इससे कुछ ही दिनों आपको लाभ नजर आने लगेगा.

ऑयली स्किन से छुटकारा दिलाये

ऑयली स्किन वालों के लिए मुल्तानी मिट्टी बेहद फायदेमंद होती हैं. इसके लिए आप इसके पेस्ट को लगाये. 10 से 15 मिनट तक लगा रहने दे फिर मुंह को धो ले. कुछ समय के लिए त्वचा पर मौजूद अतिरिक्त तेल हट जायेगा.

सन टेन की परेशानी में लाभकरी

मुल्तानी मिट्टी आपको सन टेन की परेशानी से छुटकारा दिला सकती हैं. कोकोनट वाटर में इसके पाउडर को मिलाकर लगाने से इस समस्या में लाभ मिलता हैं. इस मिट्टी का स्पा भी बहुत फेमस हैं, जो सन टेन को दूर करता हैं.

एक बेहतरीन स्किन क्लींजर हैं

मुल्तानी मिट्टी एक बेहतरीन क्लींजर का काम करती हैं. इसमें हल्दी, चंदन, नीम पाउडर और बेसन को मिलाकर अच्छे से चेहरे पर लगाये. इससे मुंह पर जमा गंदे कण निकल जाते हैं.

मुलतानी मिट्टी के लाभ बालों के लिए

पुराने समय में लोग शेम्पू और साबुन के आभाव में काली मिट्टी और मुल्तानी मिट्टी से बालों को धोया करते थे. चलिए नीचे जानते है कि यह बालों के लिए किस प्रकार से लाभकारी हैं.

बालों की रुसी हटाने में कारगर

यदि बालों में रुसी की समस्या हो गयी तब मुल्तानी मिट्टी आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है. इसके लिए आप मुल्तानी मिट्टी में मेथी पाउडर और नीबू का रस मिलाकर लगाये अच्छे से अपनी खोपड़ी में लगाये. कुछ देर लगे रहने के बाद आप इसे धो ले.

दो मुंहे बालों को हटाये

यदि आप दो मुंहे बाल की समस्या से परेशान हैं, तो मुल्तानी मिट्टी के पेस्ट का प्रयोग करें. सप्ताह में दो तीन दिन इस्तेमाल करने से आपकी यह परेशानी दूर हो जाएगी.

बालों का रूखापन दूर होता हैं

यदि आपके बाल रूखे-रूखे रहते हैं, तो दही में मुल्तानी मिट्टी क पाउडर को मिलाकर अच्छे से अपने बालों में लगाये. थोड़ी देर लगे रहने के पश्चात धो ले. कुछ ही दिनों के इस्तेमाल से आपको फायदा नजर आने लगेगा.

बालों के झड़ने की समस्या में लाभ

यदि रोजाना आपके बहुत से बाल झड़ते हैं और आप गंजेपन का शिकार होने वाले हैं. आज से ही मुल्तानी मिट्टी के पेस्ट को बालों में लगाना शुरू कर दीजिये. इससे बालों में नमी बनी रहेंगी और बाल झड़ना कम हो जायेंगे.

सफेद बाल की समस्या में लाभ

समय से पहले सफेद बाल आना किसे अच्छा लगता हैं. इस समस्या में कम उम्र में ही हम बूढ़े नजर आने लगते हैं. मुल्तानी मिट्टी के इस्तेमाल से सफेद बाल आने की समस्या को कम किया जा सकता हैं. इसमें मौजूद खनिज तत्त्व बालों को पोषण प्रदान करते हैं, जिससे समय से पहले यह परेशानी नही होती हैं.

फुलर्स अर्थ के फायदे अच्छी सेहत के लिए

प्रकति द्वारा प्रदान की गयी यह मिट्टी सिर्फ बालों और त्वचा के लिए ही फायदेमंद नही बल्कि कई शारीरिक परेशानियों को भी दूर करती हैं.

शरीर को ठंडा रखने में मददगार

शरीर की गर्मी को कम करने के लिए मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग किया जा सकता हैं. इसकी तासीर ठंडी होती हैं. गर्मियों में इसके पेस्ट को शरीर पर लगाने से अत्याधिक गर्मी लगना कम हो जाता हैं.

रक्त प्रवाह तेज करने में सहायक

मुल्तानी मिट्टी को पूरे शरीर पर लगाकर रखने से रक्त प्रवाह को तेज करने में मदद मिलती हैं. 15 से 20 मिनट तक अपनी बॉडी पर लगाकर रखे और फिर धो ले.

तनाव कम करने में कारगर

दिन भर अत्याधिक काम करने से थकान, सर दर्द और तनाव होने लगता हैं. मुल्तानी मिट्टी के पेस्ट को माथे पर 10 से 15 मिनट तक लगाकर रखने से इन समस्याओं में फायदा मिलता हैं.

चोट का घाव भरने में मददगार

यदि आपको चोट लग गयी हैं और आप घाव को जल्दी भरना चाहते है. मुल्तानी मिट्टी के पाउडर को घाव पर लगाये. इसमें मौजूद खनिज तत्त्व चोट से जल्दी उबरने में मदद करते हैं.

मुल्तानी मिट्टी के नुकसान – Multani Mitti Ke Nuksan

कोई चीज हमारे लिए फायदेमंद है, तो गलत तरीके और समय पर इस्तेमाल न करने पर हमें कुछ नुकसान भी उठाने पड़ सकते है. उसी प्रकार मुल्तानी मिट्टी के भी नुकसान हो सकते हैं-

  1. ठंड के मौसम में मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल नुकसानदायक हो सकता हैं क्योंकि मुल्तानी मिट्टी की तासीर ठंडी होती हैं.
  2. यदि इस मिट्टी को लगाने से आपको कोई एलर्जी हो रही हो तो इसका प्रयोग न करें. दोबारा प्रयोग करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह ले.
  3. रोजाना इस्तेमाल न करें सप्ताह में 2-3 दिन से ज्यादा इस्तेमाल से नुकसान हो सकता हैं.
  4. सुखी स्किन वालों को मुल्तानी मिट्टी का अधिक प्रयोग नही करना चाहिये. इससे उन्हें हानि हो सकती हैं.

दर्द मुक्ति की इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप अच्छे से समझ गए होंगे कि मुल्तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान क्या हैं. प्रकति द्वारा प्रदान की गयी इस मिट्टी का इस्तेमाल सही समय और सही तरीके से करें ताकि उचित लाभ प्राप्त हो सके. यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरुर कीजियेगा और हमें कमेंट करके जरुर बताइएगा. धन्यवाद

और पढ़े:-

पढ़िए मेथी दाना के फायदे त्वचा के स्वास्थ्य के लिए

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top