साबूदाने की खिचड़ी खाने के 10 बड़े फायदे और कुछ नुकसान | Sabudane ki khichdi Khane Ke Fayde

साबूदाना का नाम सुनते ही इससे बने पकवान हमारे दिमाग में आने लगते हैं। साबूदाना सफेद रंग का छोटे-छोटे मोतियों के समान होता है। व्रत और उपवास के समय भोजन के स्थान पर साबूदाने का सेवन किया जाता है। साबूदाने की खिचड़ी, टिकिया, खीर आदि पकवान बनाए जाते हैं। साबूदाने से बनी खिचड़ी इतनी टेस्टी होती है कि कई लोग बिना व्रत के भी इसे बड़े चाव से खाते हैं। स्वाद से भरपूर साबूदाना हमारी सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है। दर्द मुक्ति के आज के इस लेख में हम साबूदाने की खिचड़ी खाने के फायदे ( Sabudana ki khichdi khane ke fayde )और किन परिस्थितियों में इसे खाने के नुकसान उठाने पड़ सकते हैं यह हम जानेंगे।

sabudane ki khichdi khane ke fayde in hindi

 

Table of Contents

साबूदाने के पोष्टिक तत्व – Sabudane Me Kya Paya Jata Hain (In Hindi)

साबूदाना में मौजूद पोष्टिक तत्वों के कारण ही इसे खाना हमारे लिए फायदेमंद होता हैं | इसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर उच्च मात्रा में पाया जाता हैं| इसके अलावा साबूदाना विटामिन बी काम्प्लेक्स, पोटेशियम, कैल्शियम का एक अच्छा स्त्रोत हैं| इन्ही पोषक तत्वों के कारण साबूदाने को अपने आहार में जरुर शामिल करना चाहिये| डॉक्टर भी इन्ही पोषक तत्वों के कारण महिलाओ को डिलीवरी के बाद इसका सेवन करने कि सलाह देते हैं|

साबूदाने की खिचड़ी खाने के फायदे –  Sabudane Ki Khichdi Khane Ke Fayde In Hindi

साबूदाना खाना स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना गया है। तो चलिए इसके सेवन कर हम कौन-कौन से लाभ उठा सकते जान लेते हैं-

साबूदाने की खिचड़ी खाने से बढ़ता हैं वजन

साबूदाने का सेवन कर हम शरीर का वजन बढ़ा सकता है। दुबलेपन के शिकार लोग साबूदाने की खिचड़ी को अपने आहार में शामिल कर वजन बढ़ा सकते हैं। साबूदाने में कार्बोहाइड्रेट और कैलोरी उच्च मात्रा में पाई जाती है। कार्बोहायड्रेट ओर कैलोरी युक्त भोजन करने से वजन बढ़ाने में मदद मिलती हैं। क्योंकि यह दोनों ही उर्जा को अवशोषित कर शरीर का फैट बढ़ाने में मदद करते हैं। इसलिए इसका सेवन दुबले लोगों के लिए फायदेमंद है।

गर्मी से बचाव में साबूदाने की खिचड़ी सेवन से लाभ

शारीरिक कसरत करते समय हमारे शरीर को अतिरिक्त ऊर्जा की जरूरत होती है। इस अतिरिक्त ऊर्जा के लिए शरीर चर्बी का उपयोग करता हैं। इस कारण शरीर में गर्मी बढ़ने लगती है। इस गर्मी से बचाव में साबूदाने की खिचड़ी का सेवन फायदेमंद हो सकता है। साबूदाने में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है जो मेटाबॉलिज्म के स्तर में सुधार करता है और ग्लूकोज़ के रूप में ऊर्जा प्रदान करता है।इससे शरीर की बढ़ती गर्मी को कंट्रोल करने में मदद मिलती हैं। कई बार खिलाड़ियों की खेल के मैदान में गर्मी बढ़ने को कंट्रोल करने के लिए उन्हें साबूदाने से बने खाद्य पदार्थों का सेवन कराया जाता है।

साबूदाने की खिचड़ी खाने के फायदे हड्डियों के लिए

हमारे शरीर की हड्डियां कमजोर होने के कारण हड्डियों के टूटने और फैक्चर होने का खतरा बना रहता है। अगर आपकी भी हड्डियां कमजोर हैं और उन्हें मजबूत बनाना चाहते हैं तो आपके लिए साबूदाने की खिचड़ी का सेवन करना फायदेमंद साबित हो सकता है। साबूदाने में आयरन मैग्नीशियम और कैल्शियम पाया जाता है। कैल्शियम हड्डियों को मजबूती प्रदान करने का काम करता है। आयरन हड्डियो में होने वाले रोग से बचाव में सहायक हैं और मैग्नीशियम की पूर्ति से हड्डियों के टूटने का खतरा कम हो जाता है।

उर्जा बढ़ाने में साबूदाने की खिचड़ी सेवन से लाभ

अगर आपके शरीर में ऊर्जा की कमी है और किसी भी काम को करते वक्त जल्दी से थक जाते हैं। साबूदाने की खिचड़ी का सेवन आपकी इस कमी को दूर कर सकता है। इसका सेवन करने से हमें लंबे समय तक काम करने की उर्जा मिल जाती हैं। इसमे मौजूद  प्रोटीन मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करते हैं। इसके अलावा कार्बोहाइड्रेट का अच्छा स्त्रोत होने के कारण साबूदाने के सेवन से दैनिक ऊर्जा की पूर्ति आसानी से हो जाती है

साबूदाने की खिचड़ी खाने का लाभ रक्तचाप में

उच्च रक्तचाप की समस्या से पीड़ित लोगों के लिए भी साबूदाने की खिचड़ी का सेवन करना फायदेमंद हो सकता हैं। साबूदाना में पाए जाने वाले फास्फोरस, फाइबर, पोटेशियम बढ़ते हुए रक्तचाप के नियंत्रण में मदद करते हैं। इसमे मौजूद फाइबर कोलेस्ट्रॉल को कम कर रक्तचाप नियंत्रण में सहायता करता है। साबूदाने में पाए जाने वाला पोटेशियम हार्ट संबंधित बीमारियों के खतरे को कम करता हैं।

एनीमिया से बचाव में सहायक साबूदाने की खिचड़ी

हमारे शरीर में खून की कमी होने पर एनीमिया बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता हैं। एनीमिया होने पर शरीर में हमेशा थकान, कमजोरी, सीने में दर्द कैसे लक्षण सामने आते हैं। साबूदाने की खिचड़ी के सेवन से इस समस्या में राहत मिल सकती है। साबूदाने में आयरन पाया जाता है  जो लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने में मदद करता है। हालांकि  शोधकर्ता अभी यह मानते हैं कि साबूदाने में आयरन की मात्रा कम पाई जाती हैं। इसलिए खून की कमी को दूर करने के लिए साबूदाने के साथ अन्य आयरन युक्त चीजों को भी खाना चाहिए।

साबूदाने की खिचड़ी के फायदे मष्तिस्क के लिए

साबूदाना खाने से हमारा शरीर ही स्वस्थ नहीं रहता है, बल्कि मस्तिष्क के लिए भी इसे खाना फायदेमंद माना गया है। साबूदाने में फोलेट पाया जाता हैं, जो मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता हैं। इसलिए साबूदाने की खिचड़ी का सेवन करने से मस्तिष्क के कई विकार दूर हो जाते हैं और अन्य कोई मस्तिष्क से संबंधित बीमारियां होने की संभावना कम हो जाती हैं।

रक्त संचार नियंत्रण में साबूदाना सेवन के फायदे

शरीर में रक्त के प्रवाह को बेहतर बनाने में साबूदाने की खिचड़ी का सेवन फायदेमंद हो सकता हैं। इसमें फोलेट पाया जाता है जो रक्त संचार प्रणाली को मजबूत बनाने का काम करता है। साबूदाने में पाया जाने वाला फोलिक एसिड धमनियों में खून के प्रवाह को बेहतर बनाने और रक्त वाहिकाओं को आराम पहुचने का काम करता हैं।  इससे हृदय का स्वास्थ्य अच्छा बना रहता हैं।

पाचन के लिए साबूदाने की खिचड़ी खाने के फायदे

अगर आपको पाचन संबंधी समस्याएं जैसे कब्ज़, गैस, एसिडिटी रहती हैं, तो आप साबूदाने की खिचड़ी का सेवन कर इसे दूर कर सकते हैं। साबूदाने में प्रोटीन और फाइबर अच्छी मात्रा में होता हैं, जो इन समस्याओ दूर करने में मदद करते हैं। फाइबर युक्त भोजन मल को चिकना कर शरीर से बाहर निकालने में सहायता करता हैं।

साबूदाने की खिचड़ी सेवन के लाभ त्वचा के लिए

शरीर के स्वास्थ्य के लिए कई प्रकार से लाभदायक साबूदाना त्वचा के स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। इसमें कॉपर जिंक और सेलेनियम उपस्थित होता है। यह तीनों तत्व त्वचा के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। जिंक की उपस्थिति त्वचा पर सूरज की किरणों से पड़ने वाले हानिकारक प्रभाव को कम कर देती हैं। वही कॉपर की उपस्थिति त्वचा को फ्री रेडिकल्स से बचाते हैं। कॉपर में एन्टी ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं। इसके अलावा सेलेनियम मौजूद होने के कारण यह त्वचा की ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से रक्षा करने में मदद करता हैं।

साबूदाना खिचड़ी खाने के नुकसान –  Sabudane Khane Ke Nuksan In Hindi

साबूदाने की खिचड़ी खाना हमारे लिए तब तक ही लाभदायक होता है जब तक हम इसे संतुलित मात्रा में खाएं। अत्यधिक मात्रा में इसका सेवन करने से हमारे शरीर के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। तो चलिए साबूदाना खाने के हमारे शरीर को क्या क्या नुकसान हो सकते हैं यह जान लेते हैं-

  1. मधुमेह के रोगियों को साबूदाने का सेवन डॉक्टर की सलाह पर करना चाहिए, क्योंकि साबूदाने में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा अधिक होती है।  अत्यधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट का सेवन करने से ब्लड शुगर का लेवल बढ़ सकता है।
  2. मोटापे के शिकार लोगों को साबूदाने का सेवन करने से बचना चाहिए क्योंकि इसमें कैलोरी की मात्रा बहुत अधिक होती है। इसलिए इसका सेवन करने से आपके शरीर का वजन और बढ़ सकता है। जिससे दिल से संबंधित बीमारिया होने का खतरा बढ़ जाता हैं।
  3. साबूदाने के अति सेवन से पाचन संबंधित समस्या उल्टी, दस्त, पेट दर्द का कारण बन सकता हैं।
  4. जिन लोगो को प्रोटीन की कमी है, उन लोगो को साबूदाने का कम मात्रा में सेवन करना चाहिए, क्यो की इसमें प्रोटीन कम मात्रा में होता हैं।

दर्द मुक्ति के इस लेख में आपने जाना कि साबूदाने की खिचड़ी खाना हमारे स्वास्थ्य के लिए कितना लाभदायक हैं। इसमे मौजूद पोषक तत्व सेहत सुधार के साथ, त्वचा के स्वास्थ्य के फायदेमंद हैं। इसके अलावा हमने अति सेवन करने के कुछ नुकसान के बारे में भी जान लिया। उम्मीद करते हैं यह जानकारी आपको अच्छी लगी होगी। इसलिए इसे अपने दोस्तों और परिचितों से भी शेयर कीजियेगा।

और पढ़े:-

पढ़िए फलाहार खाने के फायदे और नुकसान

पढ़िए गर्म दूध में दालचीनी मिलाकर पीने के फायदे और नुकसान

Leave a Comment